Thursday, June 17, 2010

सही - गलत और लाभ - हानि


जहाँ लाभ होता हैं क्या वही सही होता हैं ? नहीं!

फायदा हमारे क्या काम आयेगा?
नुकसान से कुछ ना कुछ सिखा ही जायेगा!
सही को याद और गलत को नकारा जायेगा,
सही लाभ को करीब ही लायेगा,
गलत अंत में हमे हानि दे जायेगा,
अंजान बीच में फसकर चिल्लाएगा,
बताइये ये भी क्या अब ब्लॉग पर लिखा जायेगा!

क्या सही-गलत का फैसला लाभ-हानि से हो पायेगा?

16 comments:

  1. good thought................

    ReplyDelete
  2. क्या सही-गलत का फैसला लाभ-हानि से हो पायेगा? aap bilkul sahi likha rahe hai......

    ReplyDelete
  3. kya likha hai harish..........good one...........

    ReplyDelete
  4. सही-गलत का फैसला लाभ-हानि से बिलकुल भी नहीं हो सकता है. लेकिन आजकल सही-गलत का पैमाना लाभ-हानि बना दिया गया है. :-(

    बेहतरीन लिखा है हरीश! बहुत खूब!

    ReplyDelete
  5. waha waha kya batt kahe hai swami Nityanand harish kumar ne

    ReplyDelete
  6. In today's world, everyday follow give n take policy...

    ReplyDelete
  7. कुमार साहब अच्छी पोस्ट !

    ReplyDelete
  8. Ajay Kumar TeotiaJune 17, 2010 at 8:43 PM

    अच्छा लिखा है

    ReplyDelete
  9. hume bhi blogging sikhla do. dost

    ReplyDelete
  10. बहुत अच्‍छा विचार।

    ReplyDelete
  11. Extremely true in today's world...

    ReplyDelete
  12. Sumit Kumar LadhaJune 18, 2010 at 9:24 AM

    Good one......
    nice nd true........

    ReplyDelete